स्वर किसे कहते हैं|Swar kise kahate hain

swar-kise-kahate-hain

स्वर वर्ण किसे कहा जाता है(Swar kise kahte hain) और स्वर के कितने भेद हैं, क्या आप इस प्रश्न का उत्तर जानना चाहते हैं, तो आप सही जगह पर आए हैं, क्योंकि इस लेख के माध्यम से हम आपको स्वर वर्ण के बारे में पूरी जानकारी देने जा रहे हैं।

आज इस लेख के माध्यम से हम विस्तार से जानेंगे कि स्वर वर्ण किसे कहते हैं और कितने प्रकार के स्वर होते हैं , जिससे  आपको स्वर वर्ण के बारे में पूरी जानकारी मिल जाएगा , इसलिए आपको इस लेख को अच्छे से पढ़ना चाहिए।

स्वर वर्ण  – ध्वनि के  लिखित भाषा को वर्ण कहा जाता है, जिसे दो भागों में विभाजित किया गया है, उनमें से एक स्वर है, जिसके बारे में हम आज यहां बात करने जा रहे हैं और दूसरा है  व्यंजन वर्ण।

जिस प्रकार अंग्रेजी वर्णमाला में कुल 26 अक्षर होते हैं, वैसे ही हिंदी भाषा की वर्णमाला में कुल 52 वर्ण होते हैं, जिनमें से कुल 11  स्वर ,कुल  35  व्यंजन और वाकि 4 संजुक्त होते  है।

स्वर वर्ण किसे कहते हैं(Swar in Hindi)

स्वर किसे कहते हैं – जिन वर्णों का उच्चारण करते समय मुंह में हवा बिना ठहरे बाहर  निकल आती  है, उन्हें स्वर तथा  स्वर वर्ण  कहा जाता हैं। हिंदी में कुल 11 स्वर हैं जैसे की अ ,आ,इ ,ई,उ ,ऊ ,ऋ ,ए ,ऐ,ओ और  औ।

स्वर के कितने भेद हैं

स्वर वर्ण कितने होते हैं – उच्चारण के आधार से, स्वर वर्णों को तीन श्रेणियों में विभाजित किया जाता है, जिनमें से एक है हस्व स्वर, दूसरा दीर्घ स्वर है और तीसरा प्लुत स्वर है।

1.हस्व स्वर 

हस्व स्वर किसे कहा जाता हैं – बहुत कम समय में जिन स्वरों का उच्चारण किया जा सकता है, उन्हें हस्व  स्वर के रूप में गिना जाता है, हिंदी वर्णमाला में  कुल 4 हस्व स्वर हैं जैसे की जैसे की अ ,इ ,उ और ऋ हैं।

2.दीर्घ स्वर 

जिन स्वरों को  उच्चारण करने में हस्व स्वरों की तुलना में थोड़ा अधिक समय लगता है उन्हें दीर्घ स्वर के रूप में गिना जाता हैं, दीर्घ स्वरों को उच्चारण करने में  हस्व स्वर से दुगना समय लगता हैं , अगर कुल दीर्घ स्वरों की बात करें तो हिंदी भाषा के  वर्णमाला में कुल 7 दीर्घ स्वर हैं जैसे की आ, ई, ऊ, ए, ऐ, ओ और औ ।

3.प्लुत स्वर 

प्लुत स्वर किसे कहते हैं – ऐसे ध्वनि (स्वर) जो हस्व स्वर और दीर्घ स्वर की तुलना में उच्चारण में अधिक समय लेते हैं या इन दो स्वरों की तुलना में तीन गुना अधिक समय लेते हैं उन्हें प्लुत स्वर के रूप में गिना ।हिंदी भाषा में कुल 3 प्लुत स्वर हैं ,जैसे की ओ३म,मैया३,मामा३

स्वर कई प्रकार के होते हैं, लेकिन यहां हम केवल स्वरों के प्रमुख अंतरों के बारे में चर्चा करने जा रहे हैं, इसलिए यदि आप स्वरों के सभी अंतरों के बारे में जानना चाहते हैं, तो नीचे दिए गए लिंक पर क्लिक करें

फ़ाइनल वर्ड 

हमें उम्मीद है की आप यह  जरूर जान गए होंगे  की स्वर किसे कहते और स्वर के कितने प्रकार होते हैं ,अगर फिर भी आपको कोई बात समझने में परेशानी हो रही हो, तो हमें कमेंट करके जरूर बताएं।

 शेयर करें :

रिलेटेड पोस्ट :

sparsh vyanjan kise kahate hain

स्पर्श व्यंजन किसे कहते हैं | Sparsh Vyanjan kise kahate hain

Vyanjan kitne hote hain

व्यंजन कितने होते हैं |Vyanjan kitne hote hain

vynjan kise kahate hain

व्यंजन वर्ण किसे कहते हैं|Vyanjan kise kahate hain

sparsh-vyanjan

स्पर्श व्यनजन कितने होते हैं|Sparsh Vyanjan kitne hote hain

ushm vyanjan

उष्म व्यंजन- किसे कहते हैं और वे कितने होते हैं (Ushm Vyanjan)

Swar in Hindi

स्वर – के परिभाषा और भेद (Swar in Hindi)

Leave a Comment